नई दिल्ली: कोई भी बच्चा जब जन्म लेता है तो उसे मां का दूध अमृत समान माना जाता है. ऐसे में मां को अपने खान-पान पर बेहद ध्यान देने की जरूरत होती है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा सभी बीमारियों से दूर रहे तो स्तनपान जरूर कराएं, क्योंकि ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान शरीर में ऑक्सिटॉक्सिन हार्मोन निकलता है, जो न केवल बच्चों की सेहत अच्छी रखता है, बल्कि मां और शिशु के जुड़ाव को भी बेहतर करता है. ये तभी संभव हो सकता है, जब स्तनपान के दौरान मां सही डाइट फॉलो करती हों.

डाइट एक्सपर्ट्स डॉक्टर रंजना सिंह के मुताबिक ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान कुछ फूड्स का सेवन अनहेल्दी माना जाता है. डॉक्टर रंजना सिंह ने बताया कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं को क्या नहीं खाना चाहिए…

खट्टे फलों का सेवन नुकसानदायक
डॉक्टर रंजना सिंह के अनुसार, विटामिन सी युक्त खट्टे फलों का सेवन स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सही नहीं है. जब कोई मां इन फलों का सेवन करती है तो दूध में अम्ल बनने लगता है, ये एसिड दूध के साथ बच्चे के शरीर में जाता है, जिससे उनमें पेट में दर्द, दस्त और चिड़चिड़ापन होने का खतरा बढ़ जाता है. 

गेहूं का सेवन न करें
डॉक्टर रंजना सिंह कहती हैं कि गेहूं की रोटी नहीं खानी चाहिए, क्योंकि गेहूं में ग्लूटन नामक प्रोटीन होता है, जो कई बार नवजात शिशुओं को नुकसान पहुंचाता है. अगर स्तनपान करने वाले शिशु के स्टूल में खून दिखता है तो ऐसा ग्लूटन इनटॉलरेंस के कारण हो सकता है. साथ ही, उन्हें पेट में दर्द और चिड़चिड़ापन भी हो सकता है. 

कॉफी का सेवन न करें
डॉक्टर रंजना सिंह कहती हैं कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं को काफी नुकसानदायक है. इसमें प्रचुर मात्रा में कैफीन पाया जाता है, जो शिशु की सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है. ज्यादा कैफीन के सेवन से बच्चों को पेट खराब की शिकायत हो सकती है और उनमें चिड़चिड़ापन आ जाता है. 

लहसुन का सेवन न करें
स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह नुकसान तो नहीं करता है, लेकिन इसमें पाए जाने वाले तत्व एलिसिन की गंध कई लोगों को परेशान करती है. मां अगर लहसुन खाती हैं तो संभव है कि ये स्मेल ब्रेस्ट मिल्क में भी मिल सकती है, जो बच्चों को नापसंद हो सकती है. ऐसे में शिशु दूध पीने से कतराने लग सकता है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *