नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के मामलों में पिछले कुछ दिनों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. लेकिन बीते 5 दिन से संक्रमण के नए मामले लगातार घट रहे हैं. मृत्यु दर में भी लगातार कमी आई है. ऐसे में अब अटकलें ये लगाई जा रही हैं कि देश में कोरोना का पीक खत्म हो चुका है. 

स्वास्थ मंत्रालय की तरफ से मंगलवार को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि देश में लगातार संक्रमित मरीजों की तादाद घट रही है. कोरोना को लेकर देश में पीक की स्थिति पहुंच चुकी है या नहीं इस सवाल पर राजेश भूषण ने कहा, “हम ज्यादा मैथमैटिकल मॉडल पर भरोसा नहीं करते हैं, हमारे लिए पीक कुछ नहीं होता है. भारत सरकार का पूरा ध्यान है बेहतर कंटेन्मेंट हो, ज्यादा टेस्टिंग हो और बेहतर इलाज हो, हमारा ध्यान इसी पर है.”

स्वास्थ मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक इस महीने की 13 तारीख को 24 घंटे के भीतर सबसे ज्यादा 66 हजार 999 कोरोना संक्रमण के मामले आने के बाद कोरोना के मरीजों की तादाद लगातार कम हो रही है. 

ये भी पढ़ें- दिल्ली पुलिस में इंस्पेक्टर संजय शर्मा की मौत, कोरोना से थे संक्रमित

– 14 अगस्त को 64 हजार 553 कोरोना संक्रमण के नए मरीज सामने आए जबकि 1007 मरीजों की मौत हो गई. 
– 15 अगस्त को 65 हजार 2 संक्रमण के नए मामले आए जबकि 996 मरीजों की मौत हुई.
– 16 अगस्त की बात करें तो 63 हजार 490 संक्रमण के नए मामले आए जबकि 944 मरीजों की डेथ हुई.
– 17 अगस्त को 57 हजार 981 संक्रमण के नए मामले आए जबकि 941 मरीजों की डेथ हुई.
– 18 अगस्त यानी आज की बात करें तो बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 55 हजार 79 नए मामले सामने आए, जबकि 876 मरीजों की मौत हुई. 

यदि बीते 1 सप्ताह के आंकड़ों को देखें तो ना सिर्फ संक्रमण के मामलों में धीरे-धीरे कमी आ रही है बल्कि मृत्यु दर भी घटी है. ये एक अच्छा संकेत है कि देश में कोरोना काल धीरे-धीरे खत्म होने के रास्ते पर बढ़ चला है.

देश में कोरोना के मामले भले ही 27 लाख 2 हजार 742 पर पहुंच गए हों लेकिन राहत भरी बात यह है कि ठीक होने वालों की संख्या 19 लाख 77 हजार 779 हो गई है.

स्वास्थ्य सचिव के मुताबिक हर दिन औसतन 8 लाख 8 हजार कोरोना सैंपल टेस्ट करवाए जा रहे हैं. कुल रिकवर केसेस 19 लाख 77 हजार से ज्यादा हो गए हैं. एक्टिव केसेस 24.91 परसेंट रह गए हैं. स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि हम हर दिन ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग कर रहे है. राजेश भूषण ने बताया कि जो लोग कोरोना से ठीक हुए हैं उनसे वॉलिंटियर के रूप में मदद ली जा रही है. 

नीति आयोग, एमपॉवर्ड ग्रुप के प्रमुख डॉ वीके पॉल ने बताया कि लोगों को अभी और ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है. लोग बिल्कुल लापरवाही न करें. इस बीमारी में जितनी अच्छी तरह से देखभाल मरीज की होगी उतना ही बेहतर होगा.

उन्होंने कहा कि वैक्सीन हमारे देश में डेवलप हो रही है. एक दूसरे चरण में और दो पहले और दूसरे चरण में है. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की टेस्टिंग सही दिशा में बढ़ रही है. ये देश का मिशन है. जो अभी तक प्रगति हुई है वो अच्छी है.

उन्होंने कहा कि एक वैक्सीन जो फेज 2 में वो जल्द ही फेज 3 में आ जाएगी. लेकिन इसके ट्रायल में कितना समय लगेगा इसके बारे में फिलहाल निश्चित तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *