Breaking News

Government to allow itolizumab injection to be used in the treatment of corona patients | कोरोना मरीजों के इलाज में ‘आइटोलीजुमैब’ इंजेक्शन का होगा इस्तेमाल, सरकार ने दी इजाजत

नई दिल्ली: भारत के औषधि नियंत्रक ने त्वचा रोग के उपचार में काम आने वाले आइटोलीजुमैब इंजेक्शन (Itolizumab) का कोविड-19 के उन मरीजों के उपचार में सीमित इस्तेमाल किए जाने की मंजूरी दे दी है जिन्हें सांस लेने में मध्यम और गंभीर स्तर की दिक्कत हो.

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि कोविड-19 के इलाज की चिकित्सीय आवश्यकताओं पर विचार करते हुए भारत के औषधि महानियंत्रक डॉ. वी जी सोमानी ने कोरोना वायरस के कारण शरीर के अंगों को ऑक्सीजन न मिलने की गंभीर अवस्था के इलाज में आपात स्थिति में मोनोक्लोनल एंटीबॉडी इंजेक्शन आइटोलीजुमैब के सीमित इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है.

इस संबंध में एक अधिकारी ने बताया कि एम्स समेत अन्य अस्पतालों के श्वसन रोग विशेषज्ञों, औषधि विज्ञानियों और दवा विशेषज्ञों की समिति द्वारा भारत में कोविड-19 मरीजों पर चिकित्सकीय परीक्षणों के संतोषजनक पाए जाने के बाद ही इस इंजेक्शन के इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है.

अधिकारी ने जानकारी देते हुए आगे कहा कि पिछले कई वर्षों से त्वचा रोग के इलाज के लिए बायोकॉन कंपनी की यह पहले से स्वीकृत दवा है. उन्होंने बताया कि इस दवा के इस्तेमाल से पहले हर मरीज की लिखित में सहमति आवश्यक है.

ये भी पढ़ें:- 2021 से पहले नहीं बन पाएगी कोरोना की वैक्सीन, संसदीय पैनल को दी गई जानकारी

Check Also

केपी शर्मा ओली: प्रधानमन्त्रीको गृहजिल्ला झापाको दमक नगरपालिकामा ‘राजनेता पार्क’ बनाउने योजनाको नालीबेली

उमाकान्त खनाल झापा ९ मिनेट पहिले तस्बिरको क्याप्शन, बजेटको कार्यक्रम लागु गर्न छलफल नै अघि …

Over 100 Nursing Colleges Without Own Hospitals To be Banned!

As a result, around 3,600 SEE students will be at risk of not joining the …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *