Breaking News

elon musk beats Microsoft founder bill gates to come on number second richest person। Bill Gates को पछाड़ दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने Tesla के CEO Elon Musk, इतनी बढ़ गई संपत्ति

नई दिल्लीः माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) को पछाड़कर टेस्ला (Tesla) के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) दुनिया के दूसरे नंबर के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं. इस साल 49-वर्षीय मस्क की नेटवर्थ 100.3 अरब डॉलर बढ़ी है. वहीं, 2006 से अपनी फाउंडेशन को 27 अरब डॉलर दान कर चुके गेट्स की नेटवर्थ 127.7 अरब डॉलर है.

सोमवार को इतनी बढ़ गई संपत्ति
मस्क की नेटवर्थ सोमवार को 7.2 अरब डॉलर 127.9 अरब डॉलर हो गई है. ब्लूमबर्ग इंडेक्स के मुताबिक इस साल जनवरी में मस्क 35वें स्थान पर थे. टेस्ला की बाजार कीमत में बढ़ोतरी ने मस्क की भी संपत्ति में बढ़ोतरी की है. मस्क की तीन-चौथाई नेटवर्थ टेस्ला शेयरों के रूप में है. टेस्ला में मस्क की नेटवर्थ स्पेस एक्सप्लोरेशन टेक्नोलॉजीज कॉरपोरेशन (स्पेसएक्स) में उनकी नेटवर्थ की करीब चार गुनी है. टेस्ला जल्द ही 500 बिलियन डॉलर (37.08 लाख करोड़ रुपये) के मार्केट वैल्यू वाली कंपनी बनने वाली है.

यह भी पढ़ेंः Nifty पहली बार 13,000 के पार! आज Share Market फिर से हुआ गुलजार

यह हैं दुनिया के टॉप-5 अरबपति
ब्लूमबर्ग के मुताबिक शनिवार को 183 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ जेफ बेजोस पहले नंबर पर थे. 128 अरब डॉलर के साथ बिल गेट्स दूसरे नंबर पर थे, जहां अब एलन मस्क आ गए हैं. 105 अरब डॉलर के साथ बर्नार्ड अर्नाल्ड चौथे और 102 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ जुकरबर्ग पांचवें नंबर पर हैं. इस साल जहां आम आदमी को महामारी ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया, वहीं दूसरी तरफ अमीरों की संपत्ति में इजाफा होता गया. इस साल जनवरी से अब तक इस सूची में शामिल लोगों की नेटवर्थ में 23 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. 

उड़ाया था गेट्स का मजाक
हाल ही में, एलोन मस्क ने बिल गेट्स का मजाक उड़ाते हुए कहा था कि बाद वाले को इलेक्ट्रिक कारों के बारे में पता नहीं है. इलेक्ट्रिक ट्रकों पर बिल गेट्स की घोषणाओं पर एक सवाल का जवाब देते हुए एलन मस्क ने कहा, उनके पास कोई प्लान नहीं है.

इसके अलावा मस्क ने चीनी इलेक्ट्रिक कार निर्माता Xpeng पर अपनी इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी के पुराने स्रोत कोड चोरी करने का आरोप लगाया है. मस्क ने यहां तक ​​आरोप लगाया कि Xpeng ने Apple का कोड भी चुरा लिया है. जुलाई 2019 में, टेस्ला के एक पूर्व इंजीनियर गुआंग्झी काओ ने अपने iCloud खाते में टेस्ला के ऑटोपायलट स्रोत कोड को अपलोड करने की बात स्वीकार की थी. टेस्ला ने कथित तौर पर एक्सपेंग को गुप्त कोड देने के लिए काओ पर मुकदमा दायर किया था.

ये भी देखें—

Zee News Hindi: Business News
<

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *