Breaking News

Batsmen who have won matches by hitting a six on the last ball

नई दिल्ली: क्रिकेट की दुनिया में कई ऐसे खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने ऐसे-ऐसे कमाल कर दिखाए हैं जिन्हें देखने वालों की आंखे खुली की खुली ही रह जाती हैं. वैसे भी कहा जाता है न कि क्रिकेट के मैदान पर कब क्या हैरतअंगेज देखने को मिल जाए कुछ कहा नहीं जा सकता. कई बार क्रिकेटर्स ने हारे हुए मैचों को भी जीत में बदल दिया. इंटरनेशनल क्रिकेट में कई बार ऐसा देखने को मिला है जब किसी बल्लेबाज ने आखिरी गेंद पर अपनी टीम को जीत दिलाई है. आज हम बात इन्ही खास बल्लेबाजों की करेंगे जिन्होंने आखिरी गेंद पर अपनी टीम को हार से बचा लिया.

जावेद मियांदाद 
साल 1986 में शारजाह में ऑस्ट्रलेशिया कप के फाइनल में खेलते हुए पाकिस्तानी बल्लेबाज जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने भारतीय गेंदबाज चेतन शर्मा की आखिरी बॉल पर छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी.  मियांदाद के उस छक्के को आज भी भारत की हार का सबब माना जाता है.

लांस क्लूजनर 
साउथ अफ्रीका के लांस क्लूजनर (Lance Klusener) ने साल 1999 में नैपियर में न्यूजीलैंड के खिलाफ 192 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए में अंतिम गेंद पर छक्का मारा था. यहां क्लूजनर ने डियोन नैश की आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर दक्षिण अफ्रीका को शानदार जीत दिलाई थी.

ब्रेंडन टेलर 
जिम्बाब्वे के पूर्व कैप्टन ब्रेंडन टेलर (Brendan Taylor) ने साल 2006 में बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले में मशरफे मोर्तजा की आखिरी बॉल पर छक्का जड़कर अपनी टीम को जीत दिलाई थी. उस वक्त जिम्बाब्वे को जीत के लिए 5 रन की जरूरत थी और उन्होंने हवाई शॉट लगाते हुए छक्का मार दिया था.

शिवनारायण चन्द्रपॉल 
श्रीलंका के खिलाफ साल 2008 में वेस्टइंडीज को जीत के लिए आखिरी 2 गेंदों पर 10 रन की जरुरत थी. उस वक्त शिवनारायण चन्द्रपॉल (Shivnarine Chanderpaul)ने चमिंडा वास की पांचवीं गेंद पर चौका और आखिरी बॉल पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई थी.

रेयान मैक्लॉरेन 
साउथ अफ्रीका के रेयान मैक्लॉरेन (Ryan McLaren) ने साल 2013 में अपनी टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ सनसनीखेज जीत दिलाई थी. उस वक्त उनकी टीम को जीत के लिए लास्ट ओवर में आठ रन की जरूरत थी. तब मैक्लॉरेन ने जेम्स फ्रेंकलिन की आखिरी बॉल पर छक्का जड़कर न्यूजीलैंड के हाथों में आई जीत को उनसे छीनकर साउथ अफ्रीका की झोली में डाल दिया था.

दिनेश कार्तिक 
श्रीलंका में हुई निदहास ट्रॉफी के फाइनल में दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने छक्का मारकर टीम इंडिया को न सिर्फ मैच जितवाया था, साथ ही टूर्नामेंट का खिताब भी दिलाया था. इस टी20 मैच में कार्तिक ने शानदार पारी खेलते हुए 8 गेंद पर नाबाद 29 रन बनाए थे और उन्हें अपने शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच भी चुना गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *