वॉशिंगटन: बोइंग 737 विमान (Boeing-747 Jet) जितना बड़ा एक एस्टेरॉयड (Asteroid) तेजी से धरती की तरफ बढ़ रहा है. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने बताया है कि एस्टेरॉयड 2020 RK2 धरती की तरफ 14,942 मील प्रति घंटा की रफ्तार से बढ़ रहा है और इसके पृथ्वी की कक्षा में सात अक्टूबर को प्रवेश करने की संभावना है. 

चौड़ाई 118 से 265 फीट
क्या इस एस्टेरॉयड से कोई नुकसान होगा? इस सवाल के जवाब में नासा का कहना है कि प्रारंभिक तौर पर तो नुकसान की कोई आशंका नजर नहीं आती, फिर भी उसकी चाल पर नजर रखी जा रही है. नासा के मुताबिक, एस्टेरॉयड का व्यास 36 से 81 मीटर, जबकि चौड़ाई 118 से 265 फीट तक हो सकती है. सीधे शब्दों में कहें तो इसका आकार बोइंग 737 यात्री विमान जितना बड़ा है. 

LIVE TV

ये भी पढ़ें: दुर्लभ खगोलीय घटना! NASA ने रिकॉर्ड किया चमकीले तारे का सुपरनोवा विस्फोट

धरती से नहीं दिखेगा
नासा ने कहा है कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है. एस्टेरॉयड से धरती को नुकसान की आशंका बेहद कम है. इस एस्टेरॉयड को सितंबर महीने में ही पहली बार वैज्ञानिकों ने देखा गया था. अंतरिक्ष एजेंसी ने बताया कि भले ही यह एस्टेरॉयड पृथ्वी के करीब पहुंच रहा है, फिर भी यह धरती से दिखाई नहीं देगा. ईस्टर्न स्टैण्डर्ड टाइम (Eastern Standard Time) के अनुसार एस्टेरॉयड दोपहर एक बजकर 12 मिनट और ब्रिटिश समर टाइम (British Summer Time) के अनुसार शाम 6 बजकर 12 मिनट पर धरती के बेहद करीब से गुजरेगा. 

2027 तक कोई खतरा नहीं
नासा का यह भी कहना है कि इस घटना के बाद एस्टेरॉयड अगस्त 2027 तक वापस पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश नहीं करेगा. 24 सितंबर को भी एक एस्टेरॉयड पृथ्वी से करीब 22,000 किलोमीटर की दूरी से गुजरा था, उसका आकार स्कूल बस के बराबर था. गौरतलब है कि अमेरिकी एजेंसी नासा ऐसी घटनाओं पर करीब से नजर रखती है और उनके बारे में जानकारी प्रदान करती है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *