हार्मोन्स असंतुलित होने पर इस तरह खाएं अलसी के बीज, मिलेगा फायदा

Flax-Seeds-For-Hormonal-Imbalance-In-Hindi शरीर में हार्मोन्स के संतुलन को बनाए रखने और हार्मोनल असंतुलन की समस्या दूर करने में अलसी के बीज बहुत लाभकारी है। यह शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन्स के संतुलन को बढ़ावा देने वाले सबसे पोपुलर फूड्स में से एक हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि अलसी के बीज में ऐसे कई जरूरी पोषक तत्वों की प्रचुर मात्रा होती है, जो हार्मोन्स के संतुलन में कई तरह से अहम भूमिका निभाते हैं विशेष रूप से फाइबर और ओमेगा-3। इसके अलावा इनमें मौजूद फाइटोएस्ट्रोजन कंपाउंड एस्ट्रोजन संतुलन में मदद करते हैं। लेकिन अक्सर लोग इस बात को लेकर काफी कंफ्यूज रहते हैं कि हार्मोन्स को संतुलित करने के लिए अलसी के बीज कितनी मात्रा में खाने चाहिए, साथ ही इनका सेवन कैसे करना चाहिए। लाइफकेयर होम्योपैथी क्लीनिक की फाउंडर डॉ. कुशा जे हिमानी (BHMS, PG-HOM) ने अपने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में हार्मोन्स के संतुलन में अलसी के बीज कैसे फायदेमंद हैं और सेवन का तरीके के बारे में विस्तार से बताया है। तो चलिए जानते हैं…

Flax-Seeds-For-Hormonal-Imbalance-In-Hindi

हार्मोन्स के संतुलन में अलसी के बीज कैसे फायदेमंद हैं- Flax seeds benefits for hormonal imbalance

1. फाइबर से होते हैं भरपूर

अलसी के बीज फाइबर से भरपूर होते हैं, इसलिए यह आंत को स्वस्थ रखने के लिए एक बेहतरीन सुपर फूड है। यह आंत स्वस्थ रखने और हार्मोन्स के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है।

इसे भी पढेंं: असली नारियल तेल की पहचान कैसे करें? एक्सपर्ट से जानें शुद्धता पता लगाने का आसान तरीका

2. एस्ट्रोजन के संतुलन में करते हैं मदद

अलसी के बीज में लिगनेन नामक फाइटोएस्ट्रोजन होते हैं। जो सीधे तौर पर एस्ट्रोजन के संश्लेषण से जुड़े होते हैं। इस तरह यह हार्मोन्स के संतुलन में सुधार करने में मदद करते हैं।

3. ओमेगा-3 एसिड की होती है अच्छी मात्रा

ओमेगा-3 फैटी एसिड शरीर में सूजन से लड़ने में मदद करते हैं। अलसी के बीज ALA प्लांट ओमेगा-3 से भरपूर होते हैं और सूजन कम करने में मदद करते हैं। सूजन से जुड़ी हार्मोनल स्थितियों में सुधार करने में यह बहुत लाभकारी हैं जैसे एंडोमेट्रिओसिस और फाइब्रॉइड्स आदि। ओमेगा-3 को पीरियड के दौरान दर्द से राहत प्रदान करने में भी फायदेमंद पाया गया है।

4. ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है

ब्लड शुगर का रेगुलेट न रहना अक्सर हार्मोन्स के असंतुलन का कारण बनता है। यह आमतौर पर पीसीओएस या पेरिमेनोपॉज वाली महिलाओं में देखने को मिलता है जो अंतर्निहित इंसुलिन रेजिस्टेंस को दर्शाता है। अध्ययन में पाया गया है कि अलसी के बीज खाने से हाई ब्लड शुगर और इंसुलिन रेजिस्टेंस को कम करने में मदद मिलती है। 

हार्मोन्स के संतुलन के लिए कितने अलसी के बीज खाएं- How to much flaxseed to eat for hormonal imbalance

डॉ. कुशा के अनुसार आमतौर पर 1-2 चम्मच अलसी के बीज का सेवन स्वस्थ और हार्मोन्स के संतुलन के लिए आदर्श माना जाता है। लेकिन आपको इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए। किसी भी चीज की अति सेहत के लिए नुकसानदायक होती है।

इसे भी पढें: सफेद और भूरे चावल से क्यों ज्यादा फायदेमंद है लाल चावल? एक्सपर्ट से जानें 5 कारण

हार्मोन्स के संतुलन के लिए अलसी के बीज कैसे खाएं- How to eat flax seeds for hormonal imbalance

आप अलसी के बीज को पीसकर इसका सेवन कर सकते हैं। यह साबुत या सीधे तौर पर खाने की तुलना में पचने में अधिक आसान और बेहतर अवशोषित होते हैं।  इसके अलावा आप 5-6 घंटे पानी में भिगोकर भी इनका सेवन कर सकते हैं। 

All Image Source: freepik