बच्चों को विदेशी फैंसी फूड्स की जगह खिलाएं ये 5 देसी हेल्दी फूड्स, मिलेगा जरूरी पोषण

वर्तमान समय में बाजार विदेशी सुपर फूड्स से भरे हुए हैं। इन फूड्स को सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। सेहतमंद रहने के लिए संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार लेना बहुत जरूरी है। लेकिन इन दिनों देसी फूड्स के बजाए विदेशी फूड्स खाने का चलन काफी बढ़ गया है। हम में से ज्यादातर लोग रोजाना ब्रोकोली, एवोकैडो, कीवी, क्विनोआ, केल आदि जैसे विदेशी फूड्स का सेवन कर रहे हैं। यहां तक कि कुछ लोग तो अपने बच्चों की डाइट में भी इन विदेशी फूड्स को शामिल करने लगे हैं, क्योंकि इनके स्वास्थ्य लाभों का खूब प्रचार किया जाता है। लेकिन क्या बच्चों को ये विदेशी और फैंसी फूड्स खिलाना सही है? क्या आपने कभी सोचा है कि ये आपके बच्चे के लिए वाकई फायदेमंद हैं या नहीं? इस लेख में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

क्या बच्चों के लिए फायदेमंद हैं विदेशी फूड्स? (Healthy Foods Swaps for Kids In Hindi)

मैटरनल चाइल्ड न्यूट्रिशनिस्ट रमिता कौर की मानें तो विदेशी खाद्य पदार्थों के बजाय ताजे, स्थानीय और मौसमी फल व सब्जियां ज्यादा फायदेमंद होती है। आयुर्वेद के अनुसार कोई भोजन आपके लिए कितना फायदेमंद है यह आपके आसपास की जलवायु पर भी निर्भर करता है। आपने अक्सर लोगों को देखा होगा वे जहां पैदा होते हैं वे वहां के लोकल, फल-सब्जियों और पानी को पचाने में सक्षम होते हैं। कई लोगों को दूसरी जगह का पानी तक सूट नहीं करता है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि विदेशी फूड्स सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं, लेकिन ये उनके अपने देश के लिए अधिक फायदेमंद हैं। लेकिन हम भारतीयों के लिए हमारी लोकल फल और सब्जियां ही ज्यादा फायदेमंद होती हैं। साथ ही लोकल फूड्स विदेशी फूड्स की तुलना में बहुत सस्ते होते हैं। इसलिए आपको अपने बच्चे की डाइट में ज्यादा से ज्यादा मौसमी और देसी फल सब्जियों को शामिल करना चाहिए।

इसे भी पढें: प्रेग्नेंट महिलाओं को सोनम कपूर ने दी अनार का जूस पीने की सलाह, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

Fancy Foods Swaps

विदेशी फूड्स के बजाए बच्चों को कौन से फूड्स खिलाएं? (Fancy Foods Swaps for Kids In Hindi)

ऐसे कई लोकल और मौसमी फल और सब्जियां हैं जिन्हें आप अपने बच्चे को विदेशी फूड्स की जगह खिला सकते हैं। ये देसी फूड्स न सिर्फ बेहद स्वादिष्ट हैं बल्कि आपके बच्चे के लिए काफी हेल्दी भी हैं। यहां कुछ हेल्दी फूड्स दिए गए हैं।

1. एवोकाडो (Avocado) के बजाए बच्चों को देसी घी खिलाएं या उनके लिए भोजन पकाते समय नारियल के तेल और कच्ची घानी सरसों का तेल उपयोग करें। ये हेल्दी फैट्स, ओमेगा-3 फैटी एसिड और कई अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं।

2. मूंगफली के मक्खन और बादाम के मक्खन (Peanut Butter Or Almond Butter) की बजाए आप बच्चों को घर पर बना देसी मक्खन खिलाएं, या घर पर बने मूंगफली और बादाम का मक्खन तैयार करें। लेकिन सामग्री देसी होनी चाहिए।

3. गोजी बेरी (Goji Berries) के बजाए बच्चों को आंवला खिलाएं। यह विटामिन सी के साथ ही एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है, जिससे यह उनकी इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद करता है।

4. केल, ब्रोकली, सलाद के पत्ते (Kale, Broccoli, Lettuce) के बजाए बच्चों की डाइट में मेथी, पालक, सरसों, चौलाई आदि शामिल करें। यह आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम के साथ ही कई अन्य जरूरी पोषक तत्वों से भी भरपूर होते हैं।

इसे भी पढें: गुप्त नवरात्रि में रख रहे हैं व्रत तो फलाहार में शामिल करें ये चीजें, बनी रहेगी सेहत

5. क्विनोआ, कूसकूस (Quinoa, Couscous) के बजाए बच्चों के लिए ज्वार, रागी, जौ, कुट्टू का आटा आदि से बने व्यंजनों का विकल्प चुनें।

6. चीज़ (Cheese) के बजाए बच्चों को दही, मलाई, पनीर जैसे डेयरी उत्पाद खिलाएं। ये प्रोटीन, कैल्शियम से भरपूर होते हैं, जिससे यह बच्चों की हड्डियों को मजबूत बनाने और उनके बेहतर विकास में मददगार हैं।

All Image Source: Freepik.com